https://www.xxzza1.com
Sunday, March 3, 2024
Home राजनीति वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद परिसर की ASI सर्वे रिपोर्ट होगी सर्वजनिक

वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद परिसर की ASI सर्वे रिपोर्ट होगी सर्वजनिक

अखिलेश त्रिपाठी | इंडिया टुमारो

लखनऊ | वाराणसी स्थित ज्ञानवापी मस्जिद परिसर की भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण की सर्वे रिपोर्ट सर्वजनिक होगी। इसका फैसला वाराणसी जिला जज डा. अजय कृष्ण विश्वेश की अदालत ने किया है।

जिला जज ने इस संबंध में बुधवार को अपना फैसला सुनाते हुए सभी पक्षकारों और डीजीसी (सिविल) को सर्वे रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिया है।

वाराणसी के जिला जज डा. अजय कृष्ण विश्वेश की अदालत ने यह फैसला मुकदमे की वादियों की सर्वे रिपोर्ट की प्रति मांगने के अनुरोध पर दिया है।

वाराणसी में स्थित ज्ञानवापी मस्जिद परिसर का सर्वे करने का मुकदमा चल रहा था और इसमें अदालत ने इसके सर्वे करने का एएसआई को आदेश दिया था। अदालत के आदेश के फैसले पर एएसआई इसका सर्वे कर रहा था। अदालत के आदेश के बावजूद् निर्धारित तारीख पर एएसआई ने सर्वे रिपोर्ट नहीं जमा की थी।

अदालत ने इस पर उसको सर्वे करने के लिए और अतिरिक्त समय भी दिया था। इसके बाद एएसआई ने सर्वे पूरा किया था और जिला जज की अदालत में एएसआई ने ज्ञानवापी मस्जिद परिसर की सर्वे रिपोर्ट 18, दिसंबर 2023 को दाखिल की थी।

रिपोर्ट दाखिल होने के बाद इस मुकदमें की वादिनी सीता साहू, रेखा पाठक, मंजू व्यास और लक्ष्मी देवी ने सर्वे रिपोर्ट की प्रति अदालत से देने का अनुरोध किया था और मांग की थी। इनका कहना था कि, “यह जनहित का मामला है, इसलिए इसको गोपनीय बनाकर इसका हौव्वा खड़ा किया जा रहा है।”

इसके आलावा हिंदू पक्ष की एक और वादिनी राखी सिंह का कहना था कि, “अदालत में दाखिल रिपोर्ट के अध्ययन का अधिकार वादी पक्ष को है, इसलिए उसको सर्वे रिपोर्ट की प्रति दी जाये।”

जिला जज की अदालत ने एएसआई सर्वे की रिपोर्ट सर्वजनिक किए जाने का फैसला सुनाए जाने के वक्त कहा कि, “पक्षकारों को उनके अनुरोध पर रिपोर्ट की प्रति देना न्याय हित में होगा। इससे एएसआई रिपोर्ट के खिलाफ आपत्तियां दर्ज कराई जा सकेंगी। सर्वे रिपोर्ट की प्रति उपलब्ध कराए बिना आपत्तियां दर्ज करापाना संभव नहीं होगा।”

उधर दूसरी ओर प्रतिवादी अंजुमन इंतजामियां मस्जिद का कहना है कि, “यदि सर्वे रिपोर्ट वादी पक्ष को दी जाती है, तो उन्हें भी इसकी प्रति उपलब्ध कराई जाए।” इसके अलावा जिला जज की अदालत ने सर्वे रिपोर्ट की मीडिया
कवरेज पर किसी तरह की रोंक नहीं लगाई है।

वाराणसी स्थित ज्ञानवापी मस्जिद परिसर की एएसआई सर्वे रिपोर्ट सार्वजनिक करने के जिला जज की अदालत के फैसले से यह रिपोर्ट दोनों पक्षों को मिलेगी और दोनों पक्ष फिर बाद में इसका अध्ययन करेंगे। इसके बाद दोनों पक्ष कानूनी राय – मशविरा लेकर
आगे चलेंगे।

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

यूपी में विधायकों के क्रास वोटिंग से भाजपा 8वीं राज्यसभा सीट जीती, सपा को मिली 2 सीट

अखिलेश त्रिपाठी | इंडिया टुमारो लखनऊ | उत्तर प्रदेश में 10 सीटों के लिए हुए राज्यसभा चुनाव में विधायकों...
- Advertisement -

पिछले तीन वर्षों में गुजरात में 25,478 लोगों ने की आत्महत्या, इनमें लगभग 500 छात्र: राज्य सरकार

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | भाजपा शासित राज्य गुजरात में तीन वर्षों में 25,000 से अधिक आत्महत्या के मामले...

सुप्रीम कोर्ट ने पतंजलि दवा के विज्ञापनों पर लगाया प्रतिबंध, बाबा रामदेव को अदालत की अवमानना का नोटिस

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को एक अंतरिम आदेश पारित कर पतंजलि आयुर्वेद की दवाओं...

राजस्थान: धर्मांतरण के आरोप में निलंबित मुस्लिम शिक्षकों की बहाली के लिए छात्रों का प्रदर्शन, SDM को दिया ज्ञापन

-रहीम ख़ान जयपुर | राजस्थान के कोटा ज़िले में धर्मांतरण के आरोप में दो मुस्लिम शिक्षकों को निलंबित कर...

Related News

यूपी में विधायकों के क्रास वोटिंग से भाजपा 8वीं राज्यसभा सीट जीती, सपा को मिली 2 सीट

अखिलेश त्रिपाठी | इंडिया टुमारो लखनऊ | उत्तर प्रदेश में 10 सीटों के लिए हुए राज्यसभा चुनाव में विधायकों...

पिछले तीन वर्षों में गुजरात में 25,478 लोगों ने की आत्महत्या, इनमें लगभग 500 छात्र: राज्य सरकार

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | भाजपा शासित राज्य गुजरात में तीन वर्षों में 25,000 से अधिक आत्महत्या के मामले...

सुप्रीम कोर्ट ने पतंजलि दवा के विज्ञापनों पर लगाया प्रतिबंध, बाबा रामदेव को अदालत की अवमानना का नोटिस

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को एक अंतरिम आदेश पारित कर पतंजलि आयुर्वेद की दवाओं...

राजस्थान: धर्मांतरण के आरोप में निलंबित मुस्लिम शिक्षकों की बहाली के लिए छात्रों का प्रदर्शन, SDM को दिया ज्ञापन

-रहीम ख़ान जयपुर | राजस्थान के कोटा ज़िले में धर्मांतरण के आरोप में दो मुस्लिम शिक्षकों को निलंबित कर...

“फ़िलिस्तीनी आवाम फ़िलिस्तीन की भूमि पर ही जीने और मरने के लिए दृढ़ है”: फ़िलिस्तीनी राजदूत

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | भारत में फिलिस्तीन के राजदूत अदनान अबू अल-हैजा ने इज़राइल पर फिलिस्तीनियों को उनकी...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here