https://www.xxzza1.com
Sunday, March 3, 2024
Home देश NCRB के नए आंकड़ों में देश में हर घंटे महिलाओं के ख़िलाफ...

NCRB के नए आंकड़ों में देश में हर घंटे महिलाओं के ख़िलाफ अपराध की घटनाओं में हुई वृद्धि

अखिलेश त्रिपाठी | इंडिया टुमारो

नई दिल्ली | देश में हर घंटे 51 महिलाएं अपराध का शिकार हो रही हैं और इतने ही समय में 3 लोगों की हत्या हो जाती है. यह चौंकाने वाला आंकड़ा एनसीआरबी ने अपनी रिपोर्ट में साझा किया है.

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) ने अपनी ताजा जारी रिपोर्ट में महिलाओं से संबंधित अपराधों का रिकॉर्ड जारी किया है और महिलाओं के साथ होने वाले अपराधों की बढ़ोत्तरी का विस्तार से उल्लेख किया है.

एनसीआरबी ने अपनी रिपोर्ट में इस बात का खुलासा किया है कि देश में महिलाओं के साथ घटित होने वाले अपराधों की संख्या में इजाफा हुआ है. अपनी जारी रिपोर्ट में कहा है कि, देश में हर घंटे 51 महिलाएं अपराध का शिकार हो रही हैं. इतने ही समय में 3 लोगों की हत्या भी हो जाती है.

रिपोर्ट के मुताबिक देश के 19 महानगरों में स्थिति और चिंताजनक हो गई है, जहां महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामले 2021 की तुलना में 2022 में 12.3 प्रतिशत बढ़े हैं। रिपोर्ट के अनुसार देश में 2022 में हत्या के कुल 28,522 मामले दर्ज किए गए यानी प्रतिदिन औसतन 78 हत्याएं हुई.

2021 में यह आंकड़ा 29,272 और 2020 में 29,193 था। जबकि 2022 में महिलाओं के खिलाफ अपराध के कुल 4,45,256 मामले दर्ज किए गए, जो 2021 के 4,28,278 मामलो की तुलना में लगभग 4 प्रतिशत ज्यादा हैं.

एनसीआरबी की रिपोर्ट के मुताबिक 20 लाख से अधिक आबादी वाले 19 महानगरों में महिला अपराध के 48,755 मामले दर्ज हुए हैं, 2021 में यही आंकड़ा 43 ,414 था.

देश के 19 महानगरों में देश की राजधानी दिल्ली, यूपी की राजधानी लखनऊ, दिल्ली से लगा हुआ गाजियाबाद, यूपी का ही एक बड़ा महानगर कानपुर, बिहार की राजधानी पटना, अहमदाबाद, बंगलूरू, चेन्नई, कोयंबटूर, हैदराबाद, इंदौर, जयपुर, कोलकाता, कोच्ची, कोझिकोड, मुंबई, नागपुर, पुणे और सूरत महिलाओं की सुरक्षा के लिए संवेदनशील बन गये हैं.

एनसीआरबी की रिपोर्ट के मुताबिक यूपी में हत्या के सबसे ज्यादा मामले दर्ज किए गए हैं, जो 3,491 हैं. इसके बाद बिहार का नंबर आता है जहां पर 2,930 मामले दर्ज किये गए हैं. हत्या के मामले में तीसरा स्थान महाराष्ट्र का है. यहाँ पर हत्या के 2,295 मामले दर्ज किए गए हैं.

अपराध की बढ़ोत्तरी में चौथा स्थान मध्य प्रदेश का है, जहां पर 1,978 हत्या के मामले दर्ज किए गए हैं. राजस्थान में 1,834 हत्या के मामले दर्ज किए गए हैं. हत्या के सबसे ज्यादा मामले इन्हीं राज्यों में दर्ज किए गए हैं, जो लगभग 43.92 प्रतिशत हैं. केंद्र शासित राज्यों में दिल्ली सबसे ऊपर है, यहाँ पर हत्या के 509 मामले दर्ज किए गए हैं.

एनसीआरबी ने अपनी रिपोर्ट में बच्चों के खिलाफ बढ़ती हिंसा का भी उल्लेख किया है. रिपोर्ट के मुताबिक साल 2022 में बच्चों के खिलाफ अपराध के कुल 1,62, 449 मामले दर्ज किए गए, यह साल 2021 की तुलना में 8.7 प्रतिशत ज्यादा हैं. इनमें 45.7 प्रतिशत मामले अपहरण और बंधक बनाए जाने तथा 39.7 प्रतिशत मामले यौन उत्पीड़न से संबंधित हैं.

एनसीआरबी की रिपोर्ट के अनुसार 2022 में साईबर अपराधों की संख्या में काफी बढ़ोत्तरी हुई है. 2022 में साईबर अपराधों के 65,893 मामले दर्ज किए गए, जबकि 2021 में 52,974 मामले दर्ज किए गए थे. इस तरह से साईबर अपराधों की संख्या बढ़ी है.

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के आंकड़ों के सामने आने के बाद यह बात बिल्कुल साफ हो गई है कि यूपी की राजधानी लखनऊ, यूपी की उद्योग नगरी कानपुर और यूपी के बड़े महानगर गाजियाबाद में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं. जबकि यूपी सरकार और राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यूपी को अपराधियों से मुक्त होने का दावा करते रहते हैं.

योगी आदित्यनाथ यहाँ तक कहते हैं कि अपराधियों ने उनकी सरकार में यूपी छोड़ दिया है. योगी आदित्यनाथ अब एनसीआरबी के आंकड़ों पर क्या कुछ बोलेंगे या इनको झूठा कहकर आंकड़ों से मुंह मोड़ लेंगे?

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

यूपी में विधायकों के क्रास वोटिंग से भाजपा 8वीं राज्यसभा सीट जीती, सपा को मिली 2 सीट

अखिलेश त्रिपाठी | इंडिया टुमारो लखनऊ | उत्तर प्रदेश में 10 सीटों के लिए हुए राज्यसभा चुनाव में विधायकों...
- Advertisement -

पिछले तीन वर्षों में गुजरात में 25,478 लोगों ने की आत्महत्या, इनमें लगभग 500 छात्र: राज्य सरकार

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | भाजपा शासित राज्य गुजरात में तीन वर्षों में 25,000 से अधिक आत्महत्या के मामले...

सुप्रीम कोर्ट ने पतंजलि दवा के विज्ञापनों पर लगाया प्रतिबंध, बाबा रामदेव को अदालत की अवमानना का नोटिस

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को एक अंतरिम आदेश पारित कर पतंजलि आयुर्वेद की दवाओं...

राजस्थान: धर्मांतरण के आरोप में निलंबित मुस्लिम शिक्षकों की बहाली के लिए छात्रों का प्रदर्शन, SDM को दिया ज्ञापन

-रहीम ख़ान जयपुर | राजस्थान के कोटा ज़िले में धर्मांतरण के आरोप में दो मुस्लिम शिक्षकों को निलंबित कर...

Related News

यूपी में विधायकों के क्रास वोटिंग से भाजपा 8वीं राज्यसभा सीट जीती, सपा को मिली 2 सीट

अखिलेश त्रिपाठी | इंडिया टुमारो लखनऊ | उत्तर प्रदेश में 10 सीटों के लिए हुए राज्यसभा चुनाव में विधायकों...

पिछले तीन वर्षों में गुजरात में 25,478 लोगों ने की आत्महत्या, इनमें लगभग 500 छात्र: राज्य सरकार

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | भाजपा शासित राज्य गुजरात में तीन वर्षों में 25,000 से अधिक आत्महत्या के मामले...

सुप्रीम कोर्ट ने पतंजलि दवा के विज्ञापनों पर लगाया प्रतिबंध, बाबा रामदेव को अदालत की अवमानना का नोटिस

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को एक अंतरिम आदेश पारित कर पतंजलि आयुर्वेद की दवाओं...

राजस्थान: धर्मांतरण के आरोप में निलंबित मुस्लिम शिक्षकों की बहाली के लिए छात्रों का प्रदर्शन, SDM को दिया ज्ञापन

-रहीम ख़ान जयपुर | राजस्थान के कोटा ज़िले में धर्मांतरण के आरोप में दो मुस्लिम शिक्षकों को निलंबित कर...

“फ़िलिस्तीनी आवाम फ़िलिस्तीन की भूमि पर ही जीने और मरने के लिए दृढ़ है”: फ़िलिस्तीनी राजदूत

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | भारत में फिलिस्तीन के राजदूत अदनान अबू अल-हैजा ने इज़राइल पर फिलिस्तीनियों को उनकी...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here