https://www.xxzza1.com
Wednesday, April 17, 2024
Home रिपोर्ट यूपी के कुशीनगर में क़ब्रिस्तान की ज़मीन पर कब्ज़ा, ग्राम प्रधान हेमंत...

यूपी के कुशीनगर में क़ब्रिस्तान की ज़मीन पर कब्ज़ा, ग्राम प्रधान हेमंत शुक्ला पर आरोप

राशिद बिल्लाह

कुशीनगर(यूपी) | उत्तर प्रदेश के कुशीनगर ज़िले की खड्डा तहसील के अंतर्गत ग्राम सभा किशनपुर विजयपुर के थाना नेबुआ नौरंगिया में 100 साल से भी पुराने क़ब्रिस्तान पर मौजूदा प्रधान हेमंत शुक्ला द्वारा कब्ज़ा कर जबरन स्कूल बनवाने का मामला सामने आया है.

आरोप है कि प्रधान ने क़ब्रिस्तान की ज़मीन पर बलपूर्वक और अपने प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए निर्माण करवाया है. गाँव वालों का आरोप है क़ब्रिस्तान की ज़मीन के एक हिस्से पर आबादी भी बसाया गया है जिससे कि क़ब्रिस्तान की ज़मीन पर क़ब्ज़ा दिखाया जा सके.

पूर्व प्रधान दलजीत ने इंडिया टुमारो से कहा कि, प्रधान हेमंत शुक्ला ने क़ब्रिस्तान की ज़मीन पर क़ब्ज़ा कर यहाँ के मुसलमानों से कहा कि, “मैं तुम लोगों को यहाँ दफ़न नहीं होने दूंगा, गाँव के सबसे बुज़ुर्ग व्यक्ति से कहा है कि तुम्हें इस क़ब्रिस्तान में दफ्न नहीं होने दूंगा.”

आरोप है कि प्रधान हेमंत शुक्ला द्वारा धमकी दी जा रही है कि, “मुस्लिम पक्ष जितनी ज़मीन बची है उसे लेकर ख़ामोश हो जाएं और क़ब्रिस्तान की ज़मीन का मुक़दमा वापस ले लें वरना गांव में बसने नहीं देंगे.”

हालांकि, वर्तमान प्रधान हेमंत शुक्ला ने इंडिया टुमारो से इन आरोपों पर बात करते हुए कहा कि, “ये सभी आरोप बेबुनियाद हैं और मुझ पर झूठा आरोप लगाया जा रहा है.”

गांव के पूर्व प्रधान दलजीत प्रसाद ने इंडिया टुमारो को बताया कि ये ज़मीन हमेशा से क़ब्रिस्तान की रही है और यहां मुसलमान मुर्दों को दफनाते रहे हैं मगर मौजूदा प्रधान ने क़ब्रिस्तान की ज़मीन पर अतिक्रमण कर जबरन निर्माण कार्य करवाया.

उन्होंने कहा कि, “हम बचपन से देखते आरहे हैं कि ज़मीन क़ब्रिस्तान के लिए ही इस्तेमाल हो रही है लेकिन वर्तमान प्रधान ने ज़मीन को अपने अधिकार में लेकर मनमाने तरीके से निर्माण करवा रहा है.”

दलजीत ने बताया कि ज़मीन हमेशा से क़ब्रिस्तान के रूप में दर्ज रही है मगर अभी ज़मीन के बीच में नाली निकलवा दी गई, छट के लिए घाट बनवा दिया और एक तरफ आबादी को बसा दिया गया है.

इस प्रकार क़ब्रिस्तान की ज़मीन को कई टुकड़ों में बांट दिया गया है हालांकि, इस ज़मीन को लेकर दशकों से विवाद चल रहा है जो न्यायालय में लंबित है.

इंडिया टुमारो से बात करते हुए दलजीत ने यह भी आरोप लगाया कि निर्माण के दौरान पुरानी कब्रों की हड्डियां भी बरामद हुईं थीं जिन्हें प्रधान ने नहर में फेंकवा दिया.

गाँव के कई अन्य लोगों ने बताया कि, मुसलमान कोर्ट से लेकर सरकारी कार्यालयों तक इस मामले को लेकर गए हैं लेकिन अभी तक कोई हल नहीं निकल सका.

कब्रिस्तान की ज़मीन जिसमें मुर्दों को दफनाया जाता रहा है खसरा के अंदर 15 कट्ठा ज़मीन दर्ज है जबकि इस वक्त मौके पर खाली ज़मीन सिर्फ 11 कट्ठा है.

मुस्लिम पक्ष ज़मीन को लेकर पिछले कई दशक से मुकदमा लड़ रहे हैं लेकिन प्रधान ने जबरन स्कूल बनवाकर क़ब्रिस्तान की ज़मीन कब्ज़ा कर लिया है.

बद्री, 70 वर्षीय ग्रामवासी ने इंडिया टुमारो से कहा कि, “मैंने बचपन से ही इस ज़मीन को क़ब्रिस्तान ही देखा है, इस ज़मीन पर जो भी निर्माण कार्य हुआ है वह सभी कुछ वर्षों का ही है. बहुत से मुसलमानों की मिटटी में हम शामिल हुए हैं जिन्हें इसी क़ब्रिस्तान में दफनाया गया था.”

उन्होंने कहा कि, इस ज़मीन पर बने स्कूल का हाल में ही निर्माण हुआ है. पहले ये ज़मीन खाली थी.

बुधिराम शर्मा, ग्राम निवासी ने कहा, “बचपन से हम इस ज़मीन को कब्रिस्तान के रूप में ही देखते आए हैं और अभी इस ज़मीन पर जबरन स्कूल बनवा दिया गया है.”

बृज नारायण, ग्रामवासी ने कहा कि, “क़ब्रिस्तान की ज़मीन पर भला कैसे कोई क़ब्ज़ा कर सकता है, इतना ही नहीं बल्कि उससे आर्थिक लाभ अर्जित किया जा रहा है जो सरासर ग़लत है.”

ग्राम निवासी सद्दाम ने बताया कि, “छट घाट क़ब्रिस्तान की ज़मीन के किनारे पर था जिसे बाउंड्री कराकर प्रधान हेमंत शुक्ला ने स्कूल में मिला लिया और क़ब्रिस्तान की ज़मीन पर सब्ज़ी उगाते हैं और निजी कार्य में प्रयोग करते हैं.”

इस से पहले पुलिस की मौजूदगी में मामला हल कराने का प्रयास किया जा चुका है लेकिन मौके पर क़ब्रिस्तान की दर्ज ज़मीन पर स्कूल का क़ब्ज़ा पाया गया जिसके बाद प्रशासन वहां से चला गया.

इस ज़मीन को लेकर मामला न्यायालय में चल रहा है लेकिन इसी बीच वर्तमान प्रधान हेमंत शुक्ला ने क़ब्रिस्तान की ज़मीन पर निर्माण कार्य शुरू करा दिया और एक स्कूल भी बनवा दिया.

वर्तमान प्रधान हेमंत शुक्ला की धमकियों और दबाव के बावजूद मुस्लिम पक्ष न्यायालय पर भरोसा जताते हुए मुक़दमा लड़ रहे हैं लेकिन उससे पहले ज़मीन क़ब्ज़ा कर कई टुकड़ों में बांटा जा रहा जिससे गांव के मुस्लिम आहत हैं.

मुस्लिम पक्ष को उम्मीद है कि प्रशासन उनकी मदद करेगा और अतिक्रमण करने वालों के अवैध क़ब्ज़े को हटवाएगा.

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

सुप्रीम कोर्ट ने यूपी मदरसा एक्ट रद्द करने वाले इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाई

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा बोर्ड अधिनियम, 2004 को असंवैधानिक घोषित करने के इलाहाबाद उच्च...
- Advertisement -

मदरसा बोर्ड पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला स्वागतयोग्य, हाईकोर्ट का फैसला राजनीति से प्रेरित था: यूपी अल्पसंख्यक कांग्रेस

इंडिया टुमारो लखनऊ | सुप्रीम कोर्ट द्वारा इलाहाबाद हाई कोर्ट के मदरसा शिक्षा अधिनियम 2004 को असंवैधानिक घोषित करने...

2014 के बाद से भ्रष्टाचार के मामलों में जांच का सामना कर रहे 25 विपक्षी नेता भाजपा में शामिल

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर काफी समय से ये आरोप लगते रहे हैं...

गज़ा में पिछले 24 घंटों में 54 फिलिस्तीनियों की मौत, अब तक 33,091 की मौत : स्वास्थ्य मंत्रालय

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | गज़ा में पिछले 24 घंटों में इज़रायली हमलों के दौरान कम से कम 54...

Related News

सुप्रीम कोर्ट ने यूपी मदरसा एक्ट रद्द करने वाले इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाई

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा बोर्ड अधिनियम, 2004 को असंवैधानिक घोषित करने के इलाहाबाद उच्च...

मदरसा बोर्ड पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला स्वागतयोग्य, हाईकोर्ट का फैसला राजनीति से प्रेरित था: यूपी अल्पसंख्यक कांग्रेस

इंडिया टुमारो लखनऊ | सुप्रीम कोर्ट द्वारा इलाहाबाद हाई कोर्ट के मदरसा शिक्षा अधिनियम 2004 को असंवैधानिक घोषित करने...

2014 के बाद से भ्रष्टाचार के मामलों में जांच का सामना कर रहे 25 विपक्षी नेता भाजपा में शामिल

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर काफी समय से ये आरोप लगते रहे हैं...

गज़ा में पिछले 24 घंटों में 54 फिलिस्तीनियों की मौत, अब तक 33,091 की मौत : स्वास्थ्य मंत्रालय

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | गज़ा में पिछले 24 घंटों में इज़रायली हमलों के दौरान कम से कम 54...

IIT मुंबई के 36 प्रतिशत छात्रों को नहीं मिला प्लेसमेंट, राहुल गांधी ने BJP को बताया ज़िम्मेदार

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | कांग्रेस नेता राहुल गाँधी ने एक रिपोर्ट को साझा करते हुए केंद्र सरकार और...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here