https://www.xxzza1.com
Monday, May 27, 2024
Home एजुकेशन गोवा: मस्जिद विज़िट के लिए छात्रों को अमुमति देने पर निलंबित प्रिंसिपल...

गोवा: मस्जिद विज़िट के लिए छात्रों को अमुमति देने पर निलंबित प्रिंसिपल ने कहा- मैंने गलत नहीं किया

रिपोर्टर | इंडिया टुमारो

मुंबई | गोवा के वास्को में केशव स्मृति हायर सेकेंडरी स्कूल के प्रिंसिपल शंकर डबोनकर को छात्रों के एक समूह को गोवा में स्टूडेंट्स इस्लामिक ऑर्गनाइजेशन (एसआईओ) की वास्को इकाई द्वारा आयोजित एक मस्जिद कार्यक्रम में भाग लेने की अनुमति देने के कारण निलंबित कर दिया गया. उन्होंने कहा कि वह अपने फैसले पर कायम हैं क्योंकि उन्होंने “कोई गलती नहीं की है.”

विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी), बजरंग दल और कुछ अन्य हिंदूवादी संगठनों के कार्यकर्ताओं ने पिछले हफ्ते स्कूल प्रबंधन पर प्रिंसिपल को निलंबित करने का दबाव डाला, उन्होंने आरोप लगाया कि छात्राओं को “हिजाब पहनने के लिए” और “इस्लामिक अनुष्ठान के लिए मजबूर किया गया.”

मस्जिद में आने वाली लड़कियों ने इस बात से इनकार किया है कि उन्हें हिजाब पहनने या इस्लामी प्रार्थना के उच्चारण करने के लिए मजबूर किया गया. प्रिंसिपल का बचाव करते हुए और उनके निलंबन को रद्द करने की मांग करते हुए, लड़कियों ने कथित तौर पर कहा है कि पूजा स्थल की पवित्रता बनाए रखने के लिए मस्जिद में जाते समय ‘वे अपने दुपट्टे सिर पर रखी थीं.”

केशव स्मृति उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के सभी 22 छात्र, जिनमें से चार लड़कियाँ हैं, पिछले सप्ताह एक मस्जिद के दौरे के लिए दूसरे स्कूल के छात्रों के एक समूह में शामिल हुए थे. प्रिंसिपल ने कहा, एक महिला और एक पुरुष शिक्षक छात्रों के साथ मस्जिद के दौरे के कार्यक्रम में गए थे.

प्रिंसिपल ने कहा कि, यह पहली बार नहीं है कि उनके छात्र किसी मस्जिद में गए हों. प्रिंसिपल ने कहा, “कोविड से पहले, मेरे छात्रों के एक समूह ने इस तरह के कार्यक्रम में भाग लिया था. मैंने कोई गलती नहीं की है क्योंकि किसी भी नियम का उल्लंघन नहीं किया गया.”

उन्होंने कहा कि, कुछ संगठनों ने स्कूल प्रबंधन पर उन्हें निलंबित करने का दबाव डाला, जबकि प्रबंधन प्रदर्शनकारियों से कहता रहा कि उनके खिलाफ कोई भी कार्रवाई शुरू करने से पहले कानून की उचित प्रक्रिया का पालन किया जाएगा.

प्रिंसिपल ने कहा, “मुझे निलंबन आदेश देने से पहले प्रबंधन को मुझे कारण बताओ नोटिस देने की भी अनुमति नहीं दी. आज भी मस्जिद गई लड़कियां धरने पर बैठीं और मांग की है कि मेरा निलंबन रद्द किया जाए.”

“स्टूडेंट्स विजिट मास्क (एसवीएम)” जमात-ए-इस्लामी हिन्द की छात्र शाखा एसआईओ का एक कार्यक्रम है है जिसे 2013 में शुरू किया गया था. इसे कोविड के कारण तीन साल के लिए स्थगित कर दिया गया था. गोवा में एसआईओ के राज्य सचिव यूनुस मुल्ला ने कहा, “इस पहल के माध्यम से, गैर-मुसलमानों को मस्जिदों में जाने के लिए आमंत्रित किया जाता है जहां उन्हें वज़ू (स्नान), अज़ान और नमाज़ की रस्में समझाई जाती हैं.”

मुल्ला ने कहा, “यह कार्यक्रम गैर-मुसलमानों को यह समझाने का एक प्रयास है कि मस्जिद में वास्तव में क्या होता है. कई लोगों की गलत धारणा है कि मुसलमान बादशाह अकबर की प्रशंसा करते हैं जबकि वे अज़ान में मस्जिद में नमाज़ के लिए लोगों को बुलाते हैं. हम समझाते हैं कि अल्लाह अकबर अल्लाह या ईश्वर की प्रशंसा है, न कि बादशाह अकबर की प्रशंसा है.”

मुल्ला ने कहा कि, “गोवा में एसआईओ ने मीडिया को बताया है कि विहिप, बजरंग दल और अन्य हिंदुत्व संगठनों के आरोपों के विपरीत एसआईओ का प्रतिबंधित पीएफआई से कोई संबंध नहीं है. एसआईओ एक छात्र संगठन है जो सांप्रदायिक सद्भाव और शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व को बढ़ावा देने का प्रयास कर रहा है.” मुल्ला ने कहा, ‘स्टूडेंट्स विजिट मॉस्क’ संगठन का एक ऐसा कार्यक्रम है.

गोवा के एक स्कूल में एक मामूली मुद्दे पर प्रिंसिपल के निलंबन ने कई लोगों को चौंका दिया है. महाराष्ट्र के पूर्व अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता आरिफ नसीम खान ने हिंदुत्व समूहों की “गुंडागर्दी” की आलोचना की और प्रिंसिपल के निलंबन को तत्काल रद्द करने और “सांप्रदायिक तनाव को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे” समूहों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की.

खान ने कहा, “स्कूल प्रिंसिपल ने कुछ भी गलत नहीं किया क्योंकि एक समुदाय के पूजा स्थलों पर दूसरे समुदाय द्वारा जाना हमारी भारतीय संस्कृति का हिस्सा रहा है. अगर लड़कियां किसी मस्जिद में गईं और वे कह रही हैं कि उन्होंने अपना सिर अपने दुपट्टे से ढक लिया है, तो इसमें गलत क्या है?”

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

चुनाव आयोग ने जारी किया 5 चरणों का डेटा, 76.3 करोड़ मतदाताओं में से 50.7 करोड़ ने डाला वोट

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | चुनाव आयोग ने शनिवार को पहले पांच चरणों में हुए चुनाव के सभी लोकसभा...
- Advertisement -

गुजरात हाईकोर्ट का राजकोट गेमिंग ज़ोन में लगी आग पर स्वत: संज्ञान, कहा ‘मानव निर्मित आपदा’

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | गुजरात हाईकोर्ट ने राजकोट के एक गेमिंग ज़ोन में आग लगने की घटना को...

राजस्थान में गर्मी का क़हर, बाड़मेर का पारा 48.8 डिग्री, अब तक लू से 8 की मौत, रेड अलर्ट जारी

-सलीम अत्तार बालोतरा/बाड़मेर(राजस्थान) | राजस्थान में इस वर्ष गर्मी ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं, लू (हीटवेव) के चलते...

लोकसभा चुनाव: यूपी में छठे चरण के चुनाव में BJP के कोर वोटरों ने दिया इंडिया गठबंधन का साथ

अखिलेश त्रिपाठी | इंडिया टुमारो लखनऊ | उत्तर प्रदेश में लोकसभा के छठे चरण के चुनाव के बाद यह...

Related News

चुनाव आयोग ने जारी किया 5 चरणों का डेटा, 76.3 करोड़ मतदाताओं में से 50.7 करोड़ ने डाला वोट

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | चुनाव आयोग ने शनिवार को पहले पांच चरणों में हुए चुनाव के सभी लोकसभा...

गुजरात हाईकोर्ट का राजकोट गेमिंग ज़ोन में लगी आग पर स्वत: संज्ञान, कहा ‘मानव निर्मित आपदा’

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | गुजरात हाईकोर्ट ने राजकोट के एक गेमिंग ज़ोन में आग लगने की घटना को...

राजस्थान में गर्मी का क़हर, बाड़मेर का पारा 48.8 डिग्री, अब तक लू से 8 की मौत, रेड अलर्ट जारी

-सलीम अत्तार बालोतरा/बाड़मेर(राजस्थान) | राजस्थान में इस वर्ष गर्मी ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं, लू (हीटवेव) के चलते...

लोकसभा चुनाव: यूपी में छठे चरण के चुनाव में BJP के कोर वोटरों ने दिया इंडिया गठबंधन का साथ

अखिलेश त्रिपाठी | इंडिया टुमारो लखनऊ | उत्तर प्रदेश में लोकसभा के छठे चरण के चुनाव के बाद यह...

सपा नेता आज़म खां को इलाहाबाद हाईकोर्ट से बड़ी राहत, पत्नी और बेटे की ज़मानत मंज़ूर

अखिलेश त्रिपाठी | इंडिया टुमारो लखनऊ | इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सपा नेता आज़म ख़ान को बड़ी राहत दी है...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here