https://www.xxzza1.com
Monday, July 15, 2024
Home पॉलिटिक्स लोकसभा चुनाव UP: BJP के राम मंदिर पर इंडिया गठबंधन की बेरोज़गारी,...

लोकसभा चुनाव UP: BJP के राम मंदिर पर इंडिया गठबंधन की बेरोज़गारी, महंगाई, गरीबी पड़ी भारी

अखिलेश त्रिपाठी | इंडिया टुमारो

लखनऊ | उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव में भाजपा के राम मंदिर जैसे मुद्दे पर इंडिया गठबंधन के बेरोज़गारी, महंगाई, गरीबी, भ्रष्टाचार और गिरती कानून व्यवस्था जैसे मुद्दे भारी पड़े हैं, जिसका प्रमाण लोकसभा चुनाव में भाजपा की करारी हार के रूप में देखने को मिला है।

भाजपा ने राम मंदिर के नाम पर देश की सत्ता को तीसरी बार हासिल करने का जो सपना देखा था वह रुझान के अनुसार तार- तार हो गया है और भाजपा से केंद्र की सत्ता दूर जाती दिखाई दे रही है। अंतिम परिणाम का अभी इंतज़ार है.

भाजपा और खासतौर से पीएम नरेन्द्र मोदी यह मानकर चल रहे थे कि अयोध्या में राम मंदिर बन जाने से देश के लोग, वोटर भाजपा से खुश हो जाएंगे और लोकसभा चुनाव में उसको एक बार फिर से बहुमत मिल जायेगा और भाजपा की सरकार बन जाएगी।

इसलिए मोदी ने अयोध्या में जल्दबाजी में राम मंदिर का लोकार्पण कर दिया जिससे चुनाव में राम मंदिर को भुना सकें और राम मंदिर के नाम पर वोट ले सकें। मोदी यह सोचते थे कि इससे हिंदू एकजुट हो जाएंगे और उनके वोट थोक के भाव में भाजपा को मिल जाएंगे और वह तीसरी बार पीएम बन जाएंगे।

पीएम मोदी ही नहीं बल्कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भी ऐसा ही सोचते थे। इसीलिए जल्दबाजी में अयोध्या में मंदिर बनाकर उसका लोकार्पण किया गया। राम मंदिर बनने का ज़ोर- शोर से प्रचार किया गया और विपक्षी पार्टियों के नेताओं को राम विरोधी बताकर प्रचार किया गया।

यही चीज़ भाजपा ने लोकसभा चुनाव में दोहराई और भाजपा द्वारा अयोध्या में राम मंदिर बनाये जाने का गुणगान किया गया। मोदी, योगी और भाजपा के अन्य नेताओं ने राम मंदिर बनाने का श्रेय भाजपा को दिया। यही नहीं, चुनाव में मोदी और योगी ने यहाँ तक प्रचार में कहा, यदि इंडिया गठबंधन सत्ता में आ जाता है, तो मंदिर में ताला लगा दिया जायेगा।

इस तरह की बात कहकर हिन्दुओं को इकट्ठा करने और हिन्दुओं के धुर्वीकरण का प्रयास भी किया गया। लेकिन भाजपा ने जनता से जुड़े हुए मुद्दों पर कोई बात नहीं की।

इसी बीच इंडिया गठबंधन के सामने आ जाने से और उसके द्वारा जनता से जुड़े बरोजगारी, महंगाई, गरीबी, भ्रष्टाचार और गिरती हुई कानून् व्यवस्था की बात करने से लोग उसके साथ जुड़ने लगे। लोगों को लगा कि उनके लिए कोई बात करने वाला हैं।

यही सोचकर मतदाता इंडिया गठबंधन के साथ खड़े होते गए और इंडिया गठबंधन मजबूत होता गया। यूपी में पहले चरण के चुनाव के बाद राज्य के लोग/ वोटर खुद भाजपा के विरुद्ध चुनाव लड़ने लगे।

लोकसभा चुनाव एक तरह से भाजपा बनाम जनता का चुनाव हो गया और जनता भाजपा को चुनाव में हराने के लिए उतारू हो गई। इंडिया गठबंधन का साथ मिलने से जनता भाजपा के खिलाफ चुनावी लड़ाई लड़ने लगी।

हालांकि, भाजपा और उसके सहयोगी दलों को तब भी समझ में नहीं आया कि जनता उसके खिलफ हो गई है। भाजपा ने जनता को अनदेखा किया। इसका परिणाम यह हुआ कि जनता ने भाजपा/ एनडीए को हराने के लिए कमर कस ली। जनता ने हर चरण के चुनाव में बढ़-चढ़कर भाग लिया और भाजपा के खिलाफ मतदान किया।

इसी का परिणाम आज लोकसभा चुनाव के परिणाम में देखने को मिला। भाजपा की प्रतिष्ठा और इज्जत फ़ैजाबाद लोकसभा पर लगी हुई थी। लेकिन आज के चुनाव परिणाम में भाजपा उम्मीदवार लल्लू सिंह यहाँ पर हार गए। उनको सपा/ इंडिया गठबंधन उम्मीदवार अवधेश प्रसाद ने 31 हजार से अधिक वोटों से हरा दिया।

फ़ैजाबाद में भाजपा की हार से यह साबित हो गया है कि लोगों को रोज़गार चाहिए, महंगाई और गरीबी से मुक्ति चाहिए। जनता को मंदिर नहीं चाहिए। भाजपा को इस हार से बड़ा सदमा लगा है, जिससे उबरना बड़ा कठिन काम है।

किसानों पर बेटे द्वारा थार गाड़ी चढ़ाये जाने को लेकर चर्चा में आए केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी लखीमपुर खीरी में चुनाव हार गये हैं। उनको सपा के उत्कर्ष वर्मा ने चुनाव में हार का स्वाद चखाया है।

इसी जिले की धौरहरा सीट पर भी सपा ने कब्जा किया है। सपा उम्मीदवार आनंद भदोरिया ने भाजपा की उम्मीदवार और भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रेखा वर्मा को चुनाव में तगड़ी शिकस्त दी है।

कन्नौज में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा उम्मीदवार सुब्रत पाठक को हराया है। मैनपुरी में डिम्पल यादव ने यूपी सरकार के मंत्री और भाजपा उम्मीदवार जयवीर सिंह को करारी हार का स्वाद चखाया है। योगी आदित्यनाथ ने जयवीर सिंह के लिए मैनपुरी में रोड शो किया था और वोट मांगा था। लेकिन कुछ भी काम नहीं आया और जयवीर सिंह बुरी तरह से चुनाव हार गये।

रामपुर में सपा उम्मीदवार मोहिबुल्ला नदवी 88 हज़ार वोटों से जीते हैं। यह सीट भाजपा अपनी प्रतिष्ठा से जोड़कर देख रही थी। मोहिबुल्ला नदवी ने भाजपा प्रत्याशी घनश्याम लोधी को हराया है। कैराना से सपा की इकरा हसन ने जीत दर्ज की है। उन्होंने भाजपा के प्रदीप चौधरी को पराजित किया है।

बस्ती से सपा उम्मीदवार रामप्रसाद चौधरी जीते हैं। इन्होंने भाजपा के हरीश द्विवेदी को हराया है। बस्ती में सपा पहली बार जीती है। मुरादाबाद से सपा की रुचिवीरा जीती हैं। इन्होंने भाजपा को 1 लाख वोटों से हराया है। फिरोजाबाद से सपा के अक्षय यादव जीते हैं। यह सपा के प्रमुख महासचिव प्रो.राम गोपाल यादव के बेटे हैं।

रायबरेली में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने जीत दर्ज की है। उन्होंने भाजपा के दिनेश सिंह को 4 लाख से ज्यादा मतों के अंतर से हराया है। इसी तरह से अमेठी में कांग्रेस के किशोरी लाल शर्मा ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को हराया है।

उन्होंने स्मृति ईरानी को 1 लाख वोटों से हराया है। मोहनलालगंज से केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर को सपा के आर के चौधरी ने पराजित किया है।

नगीना से भीम आर्मी के चंद्रशेखर आजाद ने 1 लाख 25 हजार से जीत हाशिल की है। सुल्तानपुर में भाजपा की मेनका गांधी को सपा के राम भुआल निशाद ने हराया है। बाराबंकी में कांग्रेस उम्मीदवार तनुज पुनिया ने जीत दर्ज की है।

प्रतापगढ़ में भाजपा के संगम लाल गुप्ता चुनाव हार गये हैं। इनको सपा के एस पी पटेल ने हराया है। कौशाम्बी में भाजपा के विनोद सोनकर को पुष्पेंद्र सरोज ने हराया है। बलिया में पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के बेटे नीरज शेखर भाजपा उम्मीदवार को सपा के सनातन पाण्डेय ने हराया है।

संतकबीरनगर से भाजपा उम्मीदवार प्रवीण निषाद को सपा के पप्पू निशाद ने पराजित कर दिया है। प्रवीण निषाद यूपी सरकार के मंत्री संजय निषाद के बेटे हैं। यूपी में इंडिया गठबंधन भाजपा पर बढ़त बनाये हुए है।

रुझान में भाजपा को 35 सीटें भी मिलना मुश्किल नज़र आ रहा है। इंडिया गठबंधन में शामिल सपा और कांग्रेस अपनी धमक बनाये हुए हैं।

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

जम्मू-कश्मीर के साथ मोदी सरकार का विश्वासघात लगातार जारी: कांग्रेस अध्यक्ष, मल्लिकार्जुन खड़गे

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | गृह मंत्रालय ने उपराज्यपाल की शक्तियां बढ़ाने के लिए हाल ही में जम्मू और...
- Advertisement -

किसानों को रोकने के लिए शंभू बॉर्डर बंद करने पर सुप्रीम कोर्ट ने हरियाणा सरकार को लगाई फटकार

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | किसानों के आंदोलन के कारण शंभू बॉर्डर बंद करने को लेकर शुक्रवार को सुप्रीम...

पेपर लीक मामला: BJP की सहयोगी पार्टी के दो विधायकों समेत 19 आरोपियों के विरुद्ध गैर ज़मानती वारंट जारी

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | पेपर लीक मामले में उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार की सहयोगी पार्टी सुभासपा...

यूरोप में रूढ़िवादी और कट्टरपंथी नेताओं के उदय के बीच ईरान ने चुना सुधारवादी राष्ट्रपति

-सैयद ख़लीक अहमद नई दिल्ली | ऐसे समय में जब उदारवादी यूरोप में अति-राष्ट्रवादी और कट्टरपंथी रूढ़िवादी मज़बूत हो...

Related News

जम्मू-कश्मीर के साथ मोदी सरकार का विश्वासघात लगातार जारी: कांग्रेस अध्यक्ष, मल्लिकार्जुन खड़गे

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | गृह मंत्रालय ने उपराज्यपाल की शक्तियां बढ़ाने के लिए हाल ही में जम्मू और...

किसानों को रोकने के लिए शंभू बॉर्डर बंद करने पर सुप्रीम कोर्ट ने हरियाणा सरकार को लगाई फटकार

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | किसानों के आंदोलन के कारण शंभू बॉर्डर बंद करने को लेकर शुक्रवार को सुप्रीम...

पेपर लीक मामला: BJP की सहयोगी पार्टी के दो विधायकों समेत 19 आरोपियों के विरुद्ध गैर ज़मानती वारंट जारी

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | पेपर लीक मामले में उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार की सहयोगी पार्टी सुभासपा...

यूरोप में रूढ़िवादी और कट्टरपंथी नेताओं के उदय के बीच ईरान ने चुना सुधारवादी राष्ट्रपति

-सैयद ख़लीक अहमद नई दिल्ली | ऐसे समय में जब उदारवादी यूरोप में अति-राष्ट्रवादी और कट्टरपंथी रूढ़िवादी मज़बूत हो...

MSP की गारंटी जैसे मुद्दों को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा ने फिर आंदोलन शुरू करने का किया ऐलान

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने गुरुवार को ऐलान किया कि वह न्यूनतम समर्थन मूल्य...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here