https://www.xxzza1.com
Saturday, March 2, 2024
Home राजनीति कुशीनगर के अख़्तर की हिरासत में कथित हत्या: पुलिस का बयान और...

कुशीनगर के अख़्तर की हिरासत में कथित हत्या: पुलिस का बयान और कुछ अनसुलझे सवाल

–मसीहुज़्ज़मा अंसारी

नई दिल्ली/कुशीनगर | उत्तर प्रदेश के कुशीनगर ज़िले के पडरौना कसबे में 20 दिसंबर को एक 25 वर्षीय युवक अख़्तर हुसैन की कथित रूप से पुलिस हिरासत में हत्या का मामला सामने आया है. मृतक के परिवार ने इस मामले में पुलिस पर कई संगीन आरोप लगाए हैं जिनमें अख़्तर को प्रताड़ित करने, रिश्वत मांगने और हिरासत में हत्या करने जैसे आरोप शामिल हैं.

परिवार द्वारा लगाए गए सभी आरोपों का वीडियो भी इंडिया टुमारो ने सोशल मीडिया पर साझा किया है. हालांकि पुलिस ने सभी आरोपों का खण्डन किया है.

पुलिस ने ख़बर को ‘भ्रामक’ बताया

इंडिया टुमारो की ख़बर के बाद कुशीनगर पुलिस ने बयान जारी किया है और ख़बर को भ्रामक बताया है. हालांकि इंडिया टुमारो की रिपोर्ट में पुलिस का बयान भी शामिल है जो रिपोर्ट लिखे जाने से पूर्व पुलिस का पक्ष जानने के लिए लिया गया था.

पुलिस के बयान में जिन आरोपों का खंडन किया गया है वह दूसरे कई सवाल खड़ा करने वाला है. पत्रकार और रिपोर्ट पर सवाल उठाती पुलिस के लिए बहुत से सवाल हैं जो उसके द्वारा दिए गए बयान के बाद सामने आए हैं. कुशीनगर पुलिस को पहले उन सवालों का जवाब तलाशना होगा तब शायद पीड़ित परिवार को न्याय मिल सके.

कुशीनगर पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से गुरुवार को बयान जारी कर कहा है कि, “सोशल मीडिया पर एक भ्रामक ख़बर फैलाई गई जिसमें हिरासत में मौत की झूठी ख़बर फैलाई गई. कुशीनगर पुलिस ऐसी किसी भी घटना का खंडन करती है.”

पुलिस ने अपने बयान में कहा है, “दिनांक 26 नवंबर 2022 को मुकदमा अपराध संख्या 728/22 के सन्दर्भ में आरोपी अख्तर को नियमानुसार मेडिकल कराने के पश्चात जिला जेल देवरिया में दाखिल किया गया. जिला जेल में रहने के दौरान कुछ दिनों के पश्चात अभियुक्त की तबीयत ख़राब हुई जिसका इलाज जिला जेल देवरिया से चल रहा था, दिनांक 20 दिसंबर 2022 को उसकी मृत्यु दौराने इलाज हुई. प्रकरण में मृतक की पोस्टमार्टम करवाया गया, जिसकी रिपोर्ट उपलब्ध है. प्रकरण में सभी प्रक्रिया गत मेडिकल रिपोर्ट उपलब्ध है. कृपया किसी भी प्रकार की अफवाह न फैलाएं. अफवाह फ़ैलाने वालों के विरुद्ध कठोरतम कार्रवाई की जाएगी.”

पुलिस के बयान पर उठते सवाल

मृतक के परिवार के द्वारा इंडिया टुमारो को दिखाए गए वीडियो और अन्य साक्ष्यों के अनुसार मृतक अख्तर हुसैन के शरीर पर कई जगह गंभीर चोट के निशान थे. मृतक के शरीर पर चोट के निशान उसके साथ बुरी तरह मार पीट किए जाने की पुष्टि कर रहे थे.

वीडियो में साफ़ देखा जा सकता है कि मृतक अख्तर का पैर टूटा हुआ था, दोनों घुटने चोट के कारण काले पड़ गए थे, सर पर गंभीर चोटें थीं, कंदें पर भी गहरा ज़ख्म था. अख्तर के पैर के तलवे में ब्लेड से काटे जाने का ज़ख्म था जो वीडियो में मौजूद है.

यदि अख्तर की मौत सामान्य थी या अचानक बीमार होने के बाद मौत हो गई तो उसके शरीर पर गंभीर चोट के निशान कैसे आए? उसके घुटने कैसे टूटे, पीठ पर ज़ख्म कैसे आया और पैरों में ब्लेड से काटे जाने के गहरे निशान कैसे पड़े?

क्या अख्तर के साथ जेल में मार पीट की गई? उसे पुलिस ने मारा या किसी दूसरे क़ैदी ने मारा? ये सवाल परिवार भी उठा रहा है और ये स्वाभाविक सवाल हैं जिसे घटना को जानने वाला कोई भी व्यक्ति सबसे पहले करेगा. निश्चित रूप से यह जाँच का विषय है.

परिवार को पोस्टमार्टम रिपोर्ट या मेडिकल रिपोर्ट नहीं दी गई

पुलिस ने अपने बयान में कहा है कि, “प्रकरण में मृतक का पोस्टमार्टम करवाया गया, जिसकी रिपोर्ट उपलब्ध है. प्रकरण में सभी प्रक्रिया गत मेडिकल रिपोर्ट उपलब्ध है.”

हालांकि, मृतक के परिवार ने यह आरोप लगाया है कि उन्हें पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं दी गई. मृतक के परिवार का यह भी आरोप है कि अपने बेटे की लाश लेने के लिए वो दिनभर अस्पताल में भटकते रहे. परिवार का यह बयान वीडियो में मौजूद है.

अख्तर को क्या बीमारी थी? अचानक मौत कैसे हुई?

कुशीनगर पुलिस ने अपने बयान में कहा है कि, “दिनांक 26 नवंबर 2022 को मुकदमा अपराध संख्या 728/22 के सन्दर्भ में आरोपी अख्तर को नियमानुसार मेडिकल कराने के पश्चात जिला जेल देवरिया में दाखिल किया गया. जिला जेल में रहने के दौरान कुछ दिनों के पश्चात अभियुक्त की तबीयत ख़राब हुई जिसका इलाज जिला जेल देवरिया से चल रहा था, दिनांक 20 दिसंबर 2022 को उसकी मृत्यु दौराने इलाज हुई.”

हालांकि, परिवार ने आरोप लगाया है कि उन्हें किसी भी तरह की रिपोर्ट न तो दिखाई गई और न ही उन्हें दी गई. अख्तर को क्या बीमारी हुई? अचानक उसकी तबीयत कैसे बिगड़ी? क्या इलाज चल रहा था और उसकी मृत्यु किन पारिस्थि में हुई इसका कोई स्पष्ट जवाब पुलिस ने न तो परिवार को दिया है और न ही अपने बयान में साझा किया है.

परिवार का कहना है कि उनका बेटा अख्तर जेल जाने से पहले तक बिलकुल ठीक था, लेकिन 25 दिन के अन्दर उसे अचानक ऐसी कौन सी बीमारी हो गई कि अचानक उसकी मौत हो गई?

पुलिस पर रिश्वत का आरोप

मृतक अख्तर हुसैन के परिवार ने पुलिस पर रिश्वत नहीं दे पाने के कारण अख़्तर को प्रताड़ित करने व हिरासत में हत्या का आरोप लगाया है. पुलिस ने इस आरोप का भी खंडन किया है. लेकिन मृतक की माँ आयशा का कहना है कि पुलिस जब उनके बेटे को घर से पड़रौना कोतवाली ले गई तो अगले दिन उन्हें भी वहां बुलाया और वहां रिश्वत मांगी गई.

इंडिया टुमारो से बात करते हुए मृतक के परिवार ने यह भी आरोप लगाया है कि पड़रौना कोतवाली में पुलिस ने उनके बेटे अख़्तर को छोड़ने के लिए 50 हज़ार रूपय रिश्वत की मांग की थी. रिश्वत नहीं देने पर 26 नवंबर को पड़रौना कोतवाली से चालान कर के देवरिया जेल भेज दिया गया जिसके 25 दिन के बाद अख्तर की मौत हो गई.

वीडियो बयान में अख्तर की माँ ने कहा कि, पड़रौना कोतवाली में किसी वर्दी पहने हुए व्यक्ति ने उनसे रिश्वत मांगी. कुशीनगर पुलिस क्या इस बात की जांच करेगी कि आखिर कोतवाली में मृतक की माँ से रिश्वत किसने मांगी?

यदि कुशीनगर पुलिस पड़रौना कोतवाली में पीड़ित परिवार से रिश्वत मांगने वाले व्यक्ति की पहचान करवा कर उसे दण्डित करवाने का काम करती है तो ये कुशीनगर पुलिस का सराहनीय क़दम होगा और ऐसा दुस्साहस करने वाले सचेत रहेंगे.

क्या है पूरा मामला ?

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर ज़िले के पडरौना में 20 दिसंबर को एक 25 वर्षीय युवक अख़्तर हुसैन की कथित रूप से पुलिस हिरासत में हत्या का मामला सामने आया है. मामला उत्तर प्रदेश के ज़िला कुशीनगर के पड़रौना क़स्बा में मोहल्ला फुलवारी दरबार गरुण नगर का है.

मृतक पिछले एक महीने से देवरिया जेल में बंद था, उसे 26 नवंबर को चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. परिवार ने पुलिस पर रिश्वत नहीं दे पाने के कारण अख़्तर को प्रताड़ित करने व हिरासत में हत्या का आरोप लगाया है.

पुलिस, 26 नवंबर 2022 को अख्तर को चोरी के आरोप में कोतवाली ले गई. पुलिस ने अख्तर पर चोरी का आरोप बताया और परिवार को अगले दिन कोतवाली बुलाया.

मृतक के परिवार का कहना है कि पुलिस ने अख्तर को झूठे आरोप में फंसाया था और पुलिस की मांग पूरी नहीं कर पाने के कारण उसे प्रताड़ित किया गया जिसमें अख़्तर की मौत हो गई.

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

यूपी में विधायकों के क्रास वोटिंग से भाजपा 8वीं राज्यसभा सीट जीती, सपा को मिली 2 सीट

अखिलेश त्रिपाठी | इंडिया टुमारो लखनऊ | उत्तर प्रदेश में 10 सीटों के लिए हुए राज्यसभा चुनाव में विधायकों...
- Advertisement -

पिछले तीन वर्षों में गुजरात में 25,478 लोगों ने की आत्महत्या, इनमें लगभग 500 छात्र: राज्य सरकार

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | भाजपा शासित राज्य गुजरात में तीन वर्षों में 25,000 से अधिक आत्महत्या के मामले...

सुप्रीम कोर्ट ने पतंजलि दवा के विज्ञापनों पर लगाया प्रतिबंध, बाबा रामदेव को अदालत की अवमानना का नोटिस

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को एक अंतरिम आदेश पारित कर पतंजलि आयुर्वेद की दवाओं...

राजस्थान: धर्मांतरण के आरोप में निलंबित मुस्लिम शिक्षकों की बहाली के लिए छात्रों का प्रदर्शन, SDM को दिया ज्ञापन

-रहीम ख़ान जयपुर | राजस्थान के कोटा ज़िले में धर्मांतरण के आरोप में दो मुस्लिम शिक्षकों को निलंबित कर...

Related News

यूपी में विधायकों के क्रास वोटिंग से भाजपा 8वीं राज्यसभा सीट जीती, सपा को मिली 2 सीट

अखिलेश त्रिपाठी | इंडिया टुमारो लखनऊ | उत्तर प्रदेश में 10 सीटों के लिए हुए राज्यसभा चुनाव में विधायकों...

पिछले तीन वर्षों में गुजरात में 25,478 लोगों ने की आत्महत्या, इनमें लगभग 500 छात्र: राज्य सरकार

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | भाजपा शासित राज्य गुजरात में तीन वर्षों में 25,000 से अधिक आत्महत्या के मामले...

सुप्रीम कोर्ट ने पतंजलि दवा के विज्ञापनों पर लगाया प्रतिबंध, बाबा रामदेव को अदालत की अवमानना का नोटिस

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को एक अंतरिम आदेश पारित कर पतंजलि आयुर्वेद की दवाओं...

राजस्थान: धर्मांतरण के आरोप में निलंबित मुस्लिम शिक्षकों की बहाली के लिए छात्रों का प्रदर्शन, SDM को दिया ज्ञापन

-रहीम ख़ान जयपुर | राजस्थान के कोटा ज़िले में धर्मांतरण के आरोप में दो मुस्लिम शिक्षकों को निलंबित कर...

“फ़िलिस्तीनी आवाम फ़िलिस्तीन की भूमि पर ही जीने और मरने के लिए दृढ़ है”: फ़िलिस्तीनी राजदूत

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | भारत में फिलिस्तीन के राजदूत अदनान अबू अल-हैजा ने इज़राइल पर फिलिस्तीनियों को उनकी...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here