Friday, August 12, 2022
Home देश ऑल्ट न्यूज़ के सह-संस्थापक मोहम्मद ज़ुबैर को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया

ऑल्ट न्यूज़ के सह-संस्थापक मोहम्मद ज़ुबैर को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया

इंडिया टुमारो

नई दिल्ली | ऑल्ट न्यूज के सह-संस्थापक और फेक न्यूज़ की पड़ताल कर देशभर में पहचान बनाने वाले पत्रकार मोहम्मद ज़ुबैर को सोमवार को दिल्ली पुलिस की IFSO (इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रैटेजिक ऑपरेशंस) यूनिट ने एक ट्वीट के सिलसिले में गिरफ्तार किया. आरोप है कि उन्होंने अपने ट्विट से धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाया है.

सूचना के मुताबिक एक व्यक्ति की शिकायत के आधार पर दिल्ली पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की थी, जिसने सोशल मीडिया पर दिल्ली पुलिस को टैग करते हुए यह आरोप लगाया था कि जुबैर ने उसकी धार्मिक भावनाओं को चोट पहुंचाई है जिसके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जानी चाहिए.

जुबैर पर आईपीसी की धारा 153-ए (विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना) और 295-ए (दुर्भावनापूर्ण कृत्य, धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाना) के तहत मामला दर्ज किया गया था.

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि जुबैर के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 153-ए और 295 के तहत एक अलग मामला दर्ज है, जिसमें उन्हें गिरफ्तार किया गया है.

अधिकारी ने कहा, दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ की इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रैटेजिक ऑपरेशंस (आईएफएसओ) इकाई की टीम ने जुबैर को गिरफ्तार किया है.

स्पेशल सेल द्वारा ट्विटर को उनके छह महीने से एक साल के ट्वीट को सुरक्षित रखने के लिए कहने की बात कही जा रही है.

ज़ुबैर की गिरफ्तारी के तुरंत बाद, ऑल्ट-न्यूज़ के सह-संस्थापक प्रतीक सिन्हा ने ट्वीट कर जानकारी दी.

प्रतीक सिन्हा ने ट्वीट कर कहा, “जुबैर को आज विशेष सेल, दिल्ली द्वारा 2020 के एक मामले की जांच के लिए बुलाया गया था, जिसके लिए उसे पहले से ही उच्च न्यायालय से गिरफ्तारी से सुरक्षा प्राप्त थी। हालाँकि, आज शाम लगभग 6.45 बजे हमें बताया गया कि उसे किसी अन्य प्राथमिकी में गिरफ्तार किया गया है, जिसके लिए कोई नोटिस नहीं दिया गया था, जो कि जिन धाराओं के तहत उन्हें गिरफ्तार किया गया है, उनके लिए कानून के तहत अनिवार्य है। न ही बार-बार अनुरोध के बावजूद हमें एफआईआर की कॉपी नहीं दी जा रही है।

सिन्हा ने अन्य ट्वीट में लिखा, “मेडिकल जांच के बाद जुबैर को किसी अज्ञात स्थान पर ले जाया जा रहा है. न तो जुबैर के वकीलों को बताया जा रहा है और न ही मुझे बताया जा रहा है. हम उसके साथ पुलिस वैन में हैं. कोई भी पुलिस वाला कोई नाम का टैग नहीं लगाया है.”

सोशल मीडिया पर जुबैर के समर्थन उतरे लोग

सोशल मीडिया पर मोहम्मद जुबैर की गिरफ़्तारी के बाद उनके समर्थन में विभिन्न संगठनों और पार्टियों के लोग, पत्रकार और बुद्धजीवी रिहाई की मांग कर रहे हैं.

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ज़ुबैर गिरफ़्तारी पर ट्विट कर विरोध जताया है.

उन्होंने ट्विट कर कहा है, “अच्छे नहीं लगते हैं उन झूठ के सौदागरों को सच की पड़ताल करने वाले… जिन्होंने अपनी आस्तीन में हैं पाले, नफ़रत का ज़हर उगलने वाले.”

शशि थरूर ने जुबैर के समर्थन में ट्विट कर उनकी रिहाई की मांग की हुई.

AIMIM प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने दिल्ली पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए ट्विट किया है.

पत्रकार साक्षी जोशी ने ट्विट कर जुबैर का समर्थन किया है.

हंसराज मीना ने भी ट्विट कर जुबैर की रिहाई की मांग की है

वरिष्ठ पत्रकार आदित्य मेनन ने ट्विट कर मोहम्मद जुबैर का समर्थन किया है.

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

भीमा-कोरेगांव मामला: 82 वर्षीय वरवर राव को मिली ज़मानत, 13 अन्य अभी भी सलाखों के पीछे

सैयद ख़लीक अहमद नई दिल्ली | सुप्रीम कोर्ट ने पश्चिमी महाराष्ट्र के भीमा-कोरेगांव में जातिगत हिंसा की साजिश रचने...
- Advertisement -

पीएम मोदी को लिखे गए ‘ओपेन लेटर’ में मौलाना मौदूदी को क्यों बनाया गया निशाना?

सैयद ख़लीक अहमद नई दिल्ली | क्या विभाजन के बाद से अब तक किसी भारतीय मुस्लिम नेता ने 2047...

नीतीश कुमार ने 8वीं बार ली बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ, तेजस्वी बने डिप्टी सीएम

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | बिहार में जनता दल-यूनाइटेड और भाजपा गठबंधन टूटने के बाद बुधवार को नीतीश कुमार...

भीमा कोरेगांव मामले में सुप्रीम कोर्ट ने मेडिकल आधार पर वरवर राव को दी ज़मानत

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को भीमा कोरेगांव के मामले में आरोपी 84 वर्षीय पी...

Related News

भीमा-कोरेगांव मामला: 82 वर्षीय वरवर राव को मिली ज़मानत, 13 अन्य अभी भी सलाखों के पीछे

सैयद ख़लीक अहमद नई दिल्ली | सुप्रीम कोर्ट ने पश्चिमी महाराष्ट्र के भीमा-कोरेगांव में जातिगत हिंसा की साजिश रचने...

पीएम मोदी को लिखे गए ‘ओपेन लेटर’ में मौलाना मौदूदी को क्यों बनाया गया निशाना?

सैयद ख़लीक अहमद नई दिल्ली | क्या विभाजन के बाद से अब तक किसी भारतीय मुस्लिम नेता ने 2047...

नीतीश कुमार ने 8वीं बार ली बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ, तेजस्वी बने डिप्टी सीएम

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | बिहार में जनता दल-यूनाइटेड और भाजपा गठबंधन टूटने के बाद बुधवार को नीतीश कुमार...

भीमा कोरेगांव मामले में सुप्रीम कोर्ट ने मेडिकल आधार पर वरवर राव को दी ज़मानत

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को भीमा कोरेगांव के मामले में आरोपी 84 वर्षीय पी...

बिहार में भाजपा-जदयू गठबंधन टूटा, राजद से गठजोड़, महागठबंधन के साथ बनेगी नई सरकार

ख़ान इक़बाल | इंडिया टुमारो नई दिल्ली | बिहार में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और जनता दल यूनाईटेड (जदयू)...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here