Tuesday, May 17, 2022
Home COVID19: नागरिकों की पहल ऑक्सिजन उपलब्ध कराने वाले प्यारे ख़ान ने कहा, 'मैं अपने देशवासियों को...

ऑक्सिजन उपलब्ध कराने वाले प्यारे ख़ान ने कहा, ‘मैं अपने देशवासियों को मरते हुए नहीं देख सकता’

मसीहुज़्ज़मा अंसारी | इंडिया टुमारो

नई दिल्ली | महाराष्ट्र का नागपुर शहर जहां RSS का मुख्यालय भी है, कोरोना महामारी के दौर में ऑक्सिजन की किल्लत का सामना कर रहा है. संकट के इस समय में एक मुस्लिम व्यापारी प्यारे ख़ान ने आगे बढ़कर इस महामारी से लड़ने के लिए सरकार की मदद की है और 20 ऑक्सिजन टैंकरों का इंतज़ाम किया है.

प्यारे ख़ान ट्रांसपोर्ट कंपनी चलाते हैं और अपने पैसे से नागपुर शहर के लिए जीवन रक्षक गैस के 20 टैंकरों का इंतजाम किया है.

इंडिया टुमारो से बात करते हुए प्यारे ख़ान ने कहा, “देश एक बड़ी महामारी से जूझ रहा है, देश के लोग परेशान हैं ऐसे में बतौर नागरिक हमारा यह कर्तव्य बनता है कि हम आगे बढ़कर अपने लोगों की मदद करें.”

उन्होंने बताया कि, “अख़बारों और न्यूज़ चैनलों के माध्यम से उन्हें पता चला कि महामारी में नागपुर इस जीवन रक्षक गैस की कमी से जूझ रहा है. ऐसे में हमने सरकार और अपने लोगों की मदद करने का फैसला किया.”

प्यारे ख़ान अब तक 20-22 ऑक्सीजन टैंकरों का इंतजाम कर चुके हैं और इसमें लगभग एक करोड़ रूपये खर्च कर कर चुके हैं.

उन्होंने बताया कि, नागपुर के गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज में उन्होंने यह गैस की सुविधा उपलब्ध कराई है.

इंडिया टुमारो के इस सवाल पर कि आप को लोगों की मदद के लिए किस बात ने प्रेरित किया, जवाब में प्यारे ख़ान कहते हैं, “मुझे इंसान होने की ज़िम्मेदारी ने प्रेरित किया है.”

इस सवाल पर कि ऐसे कार्यों से मुसलमानों की समाज में क्या इमेज बनती है, प्यारे ख़ान ने कहा कि, “हमारी इमेज सामाज में हमारे कर्म और किरदार से होती है. जब हम कोई अच्छा काम करते हैं तो इज़्ज़त और तारीफ के साथ-साथ हमारा काम समाज में हमारी पहचान और इमेज को बनाता है. हमारा कोई भी अच्छा काम हमारे पूरे समाज को गौरवान्वित महसूस कराता है.”

प्यारे ख़ान ने कहा कि, “हम सभी को एक अच्छे इंसान और ज़िम्मेदार नागरिक के रूप में अपना कर्तव्य निभाना चाहिए. इस्लाम की भी यही शिक्षा है.”

प्यारे ख़ान ने बताया कि इससे पहले भी लॉकडाउन में उन्होंने लोगों की सेवा की थी. उन्होंने तीन महीने तक किचन चलाया था और जो ड्राइवर हैं उनके लिए भोजन की व्यवस्था की थी.

उन्होंने कहा कि, “हम से जो भी देश समाज के लिए हो सकता है वो करते हैं और आगे भी करते रहेंगे.

उन्होंने सरकारी कोविड अस्पतालों में ऑक्सिजन के लिए 50 लाख रूपये दिये हैं.

प्यारे ख़ान में कहा कि रमज़ान के पवित्र महीने में लोगों की मदद करना मेरे लिए सौभाग्य की बात है.

प्यारे खान का जीवन संघर्षों भरा रहा है. उन्होंने रेलवे स्टेशन पर संतरे बेचने से अपने काम की शुरुआत की थी और आज अपनी मेहनत के दम पर 400 करोड़ रुपए से भी अधिक के टर्नओवर वाली ट्रांसपोर्ट कंपनी के मालिक हैं.

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

नमाज़ बाधित न हो, शिवलिंग के दावे की जगह सुरक्षित हो : ज्ञानवापी मस्जिद पर सुप्रीम कोर्ट

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे पर रोक को लेकर मुस्लिम पक्ष के द्वारा...
- Advertisement -

कर्नाटक में बजरंग दल के विवादित ‘ट्रेनिंग कैम्प’ के खिलाफ शिकायत दर्ज

नई दिल्ली | कर्नाटक के मेडीकेरी जिले के एक स्कूल परिसर में विवादित संगठन बजरंगदल द्वारा एक प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया...

ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे: वाराणसी की अदालत ने अजय मिश्रा को एडवोकेट कमिश्नर पद से हटाया

इंडिया टुमारोनई दिल्ली | वाराणसी में ज्ञानवापी मस्जिद मामले में कोर्ट कमिश्नर अजय मिश्रा को हटाया गया है. अदालत ने ज्ञानवापी मस्जिद...

ज्ञानवापी मस्जिद, मस्जिद है और मस्जिद ही रहेगी: ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

इंडिया टुमारो लखनऊ | ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) ने वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वेक्षण के...

Related News

नमाज़ बाधित न हो, शिवलिंग के दावे की जगह सुरक्षित हो : ज्ञानवापी मस्जिद पर सुप्रीम कोर्ट

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे पर रोक को लेकर मुस्लिम पक्ष के द्वारा...

कर्नाटक में बजरंग दल के विवादित ‘ट्रेनिंग कैम्प’ के खिलाफ शिकायत दर्ज

नई दिल्ली | कर्नाटक के मेडीकेरी जिले के एक स्कूल परिसर में विवादित संगठन बजरंगदल द्वारा एक प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया...

ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे: वाराणसी की अदालत ने अजय मिश्रा को एडवोकेट कमिश्नर पद से हटाया

इंडिया टुमारोनई दिल्ली | वाराणसी में ज्ञानवापी मस्जिद मामले में कोर्ट कमिश्नर अजय मिश्रा को हटाया गया है. अदालत ने ज्ञानवापी मस्जिद...

ज्ञानवापी मस्जिद, मस्जिद है और मस्जिद ही रहेगी: ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

इंडिया टुमारो लखनऊ | ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) ने वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वेक्षण के...

फव्वारे के टूटे पत्थर को शिवलिंग बता अफवाह फैलायी जा रही: अल्पसंख्यक कांग्रेस अध्यक्ष

इंडिया टुमारो लखनऊ | अल्पसंख्यक कांग्रेस अध्यक्ष शाहनवाज़ आलम ने बनारस की निचली अदालत द्वारा ज्ञानवापी मस्जिद के अंदर...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here