Monday, January 18, 2021
Home पॉलिटिक्स भारत में सांप्रदायिक ध्रुवीकरण का मुकाबला करने के लिए जन-आंदोलन की ज़रूरत:...

भारत में सांप्रदायिक ध्रुवीकरण का मुकाबला करने के लिए जन-आंदोलन की ज़रूरत: जमाअत इस्लामी हिन्द

इंडिया टुमारो

नई दिल्ली | जमाअत इस्लामी हिंद के राष्ट्रीय अध्यक्ष सैयद सआदतुल्लाह हुसैनी ने कहा है कि भारत में बढ़ते ध्रुवीकरण का मुकाबला करने के लिए और शांति व सांप्रदायिक सद्भाव को बढ़ावा देने के लिए एक बड़े जन आंदोलन की आवश्यकता है.

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत द्वारा देशभक्ति पर की गई टिपण्णी कि, ‘हिंदू स्वाभाव से ही देशभक्त होते हैं’ के बारे में मीडिया द्वारा पूछे गए सवाल पर जमाअत इस्लामी हिन्द के प्रमुख सैयद सआदतुल्लाह हुसैनी ने कहा, “सांप्रदायिक चश्मे से चीजों को देखना सही नहीं है. सभी समुदायों में अच्छे और बुरे लोग हैं. नफरत और विभाजन का माहौल बनाना देश के लिए बहुत नुकसानदेह है. ध्रुवीकरण की इस सोच को चुनौती देने की ज़रूरत है.”

जमाअत इस्लामी हिन्द के प्रमुख सैयद सआदतुल्लाह हुसैनी ने ये बातें प्रेस वार्ता में साझा की.

ज्ञात हो कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने दिल्ली में किताब विमोचन के एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि अगर कोई हिन्दू है तो वह देशभक्त ही होगा, क्योंकि यही हमारे धर्म के मूल में है और यही हिन्दुओं की प्रकृति भी है. हालांकि, देश का बुद्धजीवी वर्ग मोहन भागवत के इस बयान की आलोचना कर रहा है.

दिल्ली स्थित जमाअत इस्लामी हिन्द के मुख्यालय में शनिवार को आयोजित प्रेस वार्ता में मीडिया को संबोधित करते हुए, जमाअत इस्लामी हिन्द के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने धर्मांतरण विरोधी कानूनों, मध्य प्रदेश में अल्पसंख्यकों के खिलाफ हिंसा, किसान आंदोलन, पत्रकारों की सुरक्षा और 2020 की प्रमुख घटनाओं का ज़िक्र करते हुए विभिन्न मुद्दों पर अपनी बात साझा की.

जमाअत इस्लामी हिन्द के अध्यक्ष ने कहा, “देश के नागरिक समाज, सामाजिक संगठनों को आगे आना होगा और इस बढ़ते ध्रुवीकरण का मुकाबला प्यार, सहिष्णुता और सद्भाव के साथ करना होगा.”

जमाअत इस्लामी हिन्द ने हाल ही में मध्य प्रदेश के कई शहरों में हुई साम्प्रदायिक झड़प की निंदा की और सौहार्द को बढ़ावा देने पर जोर दिया.

जमाअत इस्लामी हिंद ने साम्प्रदायिक ध्रुवीकरण के बढ़ते खतरे के बारे में चिंता व्यक्त करते हुए सार्वजनिक जागरूकता बढ़ाने की कोशिश पर ज़ोर दिया साथ ही घृणा और हिंसा के खिलाफ एक जन-आंदोलन का आह्वान भी किया.

जमाअत ने पिछले एक महीने से प्रदर्शन कर रहे किसानों और उनके आन्दोलन पर बात करते हुए कहा कि सरकार को गंभीरता से किसानों की बातों को सुनना चाहिए. देश का किसान पिछले एक महीने से ठण्ड में अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर है.

उत्तर प्रदेश में क़ानून व्यवस्था की स्थिति को बेहद चिंताजनक क़रार देते हुए जमाअत ने कहा कि ये पूर्व में दुनिया के कठोर तानाशाही शासन की याद दिलाता है.

उत्तर प्रदेश में अंतर-धार्मिक विवाह को लेकर बनाए गए कानून के कारण बढ़े अल्पसंख्यकों के उत्पीड़न के बारे चर्चा करते हुए जमाअत इस्लामी हिन्द के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा, “यह वास्तव में चिंता का विषय है कि देश में ध्रुवीकरण का एक प्रोजेक्ट चलाया जा रहा है और सांप्रदायिक विभाजन के उद्देश्य से कानून बनाए जा रहे हैं.”

प्रेस वार्ता में जमाअत इस्लामी हिन्द के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रोफेसर मोहम्मद सलीम, राष्ट्रीय सचिव सैयद तनवीर अहमद और मौलाना रज़ीउल इस्लाम नदवी मौजूद थे.

जमाअत के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रोफेसर मोहम्मद सलीम ने कहा कि जमाअत इस्लामी हिन्द पत्रकारों की सुरक्षा को लेकर भी चिंतित है. उन्होंने कहा कि, देश और दुनिया में पत्रकारों की सुरक्षा के आंकड़े बताते हैं कि हम मीडियाकर्मियों की सुरक्षा को लेकर गंभीर नहीं हैं.

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

महिला किसान दिवस पर दिल्ली के बॉर्डर पर बड़ी संख्या में किसान आंदोलन में शामिल हुईं महिलाएं

रहीम ख़ान | इंडिया टुमारो दिल्ली | सोमवार को किसान आंदोलन के समर्थन में महिला किसानों ने 18 जनवरी...
- Advertisement -

उत्तर प्रदेश के संभल ज़िले में युनिवर्सिटी की मांग तेज़, छात्र संगठन करेंगे आंदोलन

मसीहुज़्ज़मा अंसारी | इंडिया टुमारो दिल्ली | उत्तर प्रदेश की राजधानी से लगभग 400 किलोमीटर दूर और राष्ट्रीय राजधानी...

उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में 5 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

इंडिया टुमारो बांदा (उत्तर प्रदेश) | उत्तर प्रदेश में महिलाओं और बच्चियों के साथ हिंसा, रेप और उत्पीड़न का...

APCR की फैक्ट फाइंडिंग टीम का आरोप, मध्यप्रदेश में हुई हिंसा में सरकार की भूमिका

पर्वेज़ बारी | इंडिया टुमारो भोपाल | मध्यप्रदेश के हिंसा प्रभावित क्षेत्र उज्जैन, मंदसौर और इंदौर से लौटी मानवाधिकार...

Related News

महिला किसान दिवस पर दिल्ली के बॉर्डर पर बड़ी संख्या में किसान आंदोलन में शामिल हुईं महिलाएं

रहीम ख़ान | इंडिया टुमारो दिल्ली | सोमवार को किसान आंदोलन के समर्थन में महिला किसानों ने 18 जनवरी...

उत्तर प्रदेश के संभल ज़िले में युनिवर्सिटी की मांग तेज़, छात्र संगठन करेंगे आंदोलन

मसीहुज़्ज़मा अंसारी | इंडिया टुमारो दिल्ली | उत्तर प्रदेश की राजधानी से लगभग 400 किलोमीटर दूर और राष्ट्रीय राजधानी...

उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में 5 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

इंडिया टुमारो बांदा (उत्तर प्रदेश) | उत्तर प्रदेश में महिलाओं और बच्चियों के साथ हिंसा, रेप और उत्पीड़न का...

APCR की फैक्ट फाइंडिंग टीम का आरोप, मध्यप्रदेश में हुई हिंसा में सरकार की भूमिका

पर्वेज़ बारी | इंडिया टुमारो भोपाल | मध्यप्रदेश के हिंसा प्रभावित क्षेत्र उज्जैन, मंदसौर और इंदौर से लौटी मानवाधिकार...

राम मंदिर निर्माण के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दान किए 5 लाख रुपये

इंडिया टुमारो नई दिल्ली | राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here